मी टू से जुड़े मामलों की जनसुनवाई के लिए 4 रिटायर्ड जजों की कमेटी बनाएगा केंद्र

IBC24 [Edited By: Akanksha Gupta]

दिल्ली, 12 Oct 2018 04 33 PM GMT+5

  • महिला और बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने कमेटी बनाने की बात कही, मंत्रिमंडल को देंगी प्रस्ताव
  • मी टू के मामलों की जांच के लिए इस कमेटी में कानूनी जानकारों को भी शामिल किया जाएगा
  • केंद्रीय मंत्री अकबर पर अब तक नौ महिलाएं लगा चुकीं यौन उत्पीड़न के आरोप
  • रेप के आरोपों के बाद डायरेक्टर साजिद खान हाउसफुल-4 से हटे, अक्षय कुमार ने शूटिंग रोकने को कहा था
Oct 12, 2018, 04:03 PM IST

नई दिल्ली. केंद्र सरकार मी टू कैम्पेन के तहत सामने आ रहे मामलों की जनसुनवाई के लिए चार रिटायर्ड जजों की कमेटी बनाएगी। केंद्रीय महिला और बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने शुक्रवार को यह बात कही। उन्होंने कहा कि मुझे उत्पीड़न की शिकायत करने वालीं महिलाओं पर भरोसा है। उनके दर्द का एहसास भी है। हम कमेटी बनाने का प्रस्ताव मंत्रिमंडल के सामने रखेंगे। मेनका का यह बयान तब सामने आया है जब सरकार के ही मंत्री एमजे अकबर के खिलाफ नौ महिलाओं ने यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए हैं। फिलहाल अकबर नाइजीरिया में हैं। उनके रविवार तक लौटने का अनुमान है।

 

 

इस बीच, अकबर के बचाव में मध्यप्रदेश भाजपा महिला विंग की अध्यक्ष लता केलकर उतर आईं। उन्होंने कहा कि मैं मी टू कैंपेन का स्वागत करती हूं। हालांकि, मुझे नहीं लगता कि महिला पत्रकार इतनी नादान होती हैं कि कोई उनका गलत इस्तेमाल कर सके। 

 

Web Title : make a committee of 4 retired judges to hear the cases related to the two.

ibc-24

लाइव ब्लॉग

13

Oct 2018

12 08 PM

kuch

Sdsadsa