IBC-24

कांगेर घाटी का जादूगर ,तीरथगढ़ जलप्रपात

 

Published on 29 Oct 2018 04:58 PM, Updated On 29 Oct 2018 11:28 AM

छत्तीसगढ़ कई खूबसूरत झरनों से भरा है और इसी वजह से इसे सबसे खूबसूरत जगहों में शुमार किया गया है। मैदानी क्षेत्रों से लेकर झरनों तक सब आंखों को आकर्षित करते हैं। इस राज्‍य में पर्यटकों के देखने लायक बहुत कुछ है। ऐसा ही एक झरना है जो स्‍थानीय लोगों और पर्यटकों के बीच बहुत लोकप्रिय है, उसका नाम है तीरथगढ़ झरना। ये देखने में बहुत खूबसूरत है। ऊंचे पहाड़ों से गिरता पानी पर्यटकों के मन, मस्तिष्‍क और आत्‍मा को शांत कर देता है। अगर आप छत्तीसगढ़ में किसी ऐसी जगह की तलाश कर रहे हैं जहां आप अपने परिवार और दोस्‍तों के साथ रिलैक्‍स कर सकते हैं तो आप इस खूबसूरत झरने का टूर बना सकते हैं। तो चलिए जानते हैं तीरथगढ़ झरने के बारे में और किस तरह यहां पहुंचा जा सकता है। 

ये भी पढ़ें -महानदी के तट पर स्थित छत्तीसगढ़ का पुरातात्विक स्थल सिरपुर

 तीरथगढ़ के झरने छत्तीसगढ़ के बस्तर ज़िले में कांगेर घाटी पर स्थित हैं। ये झरने जगदलपुर की दक्षिण-पश्चिम दिशा में 35 कि.मी. की दूरी पर स्थित हैं।कांगेर घाटी के जादूगर के नाम से मशहूर तीरथगढ़ झरने भारत के सबसे ऊँचे झरनों में से हैं।छत्तीसगढ़ के सबसे ऊंचे जलप्रपात में इसे गिना जाता है। यहां 300 फुट ऊपर से पानी नीचे गिरता है।ज्ञात हो कि कांगेर और उसकी सहायक नदियां 'मनुगा' और 'बहार' मिलकर इस सुंदर जलप्रपात का निर्माण करती हैं।विशाल जलराशि के साथ इतनी ऊंचाई से भीषण गर्जना के साथ गिरती सफ़ेद रंग की जलधारा यहां आए पर्यटकों को एक अनोखा अनुभव प्रदान करती है।तीरथगढ़ जलप्रपात को देखने का सबसे अच्छा समय वर्षा के मौसम के साथ-साथ अक्टूबर से अप्रैल तक का है।

वेब डेस्क IBC24

 

Web Title : tirathgarh waterfall:

ibc-24